ब्लॉग को गूगल सर्च कंसोल में कैसे ऐड करे

Blog Ko Google Search Console Me Kaise Add Kare: अगर आपने अपना ब्लॉग या वेबसाइट बना ली है और इसे Google Search Console में जोड़ने का तरीका ढूंढ रहे हैं, तो आप सही जगह पर आए हैं। इस लेख में हम आपको बताएंगे कि आप अपने ब्लॉग को Google Search Console में कैसे जोड़ें सकते है।

Google Search Console, Google की उन निःशुल्क सेवाओं में से एक है जिसका उपयोग किसी ब्लॉग या वेबसाइट को सर्च रिजल्ट्स में प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है। वो वेबसाइट या ब्लॉग जो Google Search Console से वेरीफाई नहीं होते हैं, Google उन वेबसाइटों को अपने सर्च परिणामों में नहीं दिखाता है।

वर्तमान में, Google दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन है, जिसका उपयोग दुनिया भर के लोग अपने प्रश्नों का सही उत्तर खोजने के लिए करते हैं। Google अपने डेटाबेस में मौजूद वेबसाइट या ब्लॉग में इन सभी प्रश्नों के सही उत्तर खोजता है और परिणामों में प्रकट होता है। जैसे ही परिणाम सबसे सही होते हैं, वे सर्च परिणामों में सबसे ऊपर होते हैं और बाकी के उसके बाद।

यदि आपके पास कोई ब्लॉग या वेबसाइट है जिसे आपने अभी तक Google Search Console में सत्यापित नहीं किया है, तो आप उन उपयोगकर्ताओं को खो देंगे जो सीधे Google में सर्च करके आपके ब्लॉग या वेबसाइट पर आने वाले थे क्योंकि Google सर्च रिजल्ट्स से उपयोगकर्ता को ब्लॉग या वेबसाइट पर रीडायरेक्ट करता है। इसके लिए Google आपसे एक पैसा भी चार्ज नहीं करता है।

तो चलिए शुरू करते हैं कि Google Search Console में Blog या Website को Verify कैसे करें।

ब्लॉग या वेबसाइट को सर्च कंसोल में जोड़ने से पहले आपको अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर कुछ काम करना बहुत जरूरी है, जैसे: आपके ब्लॉग में सभी आवश्यक पृष्ठ बने होने चाहिए जैसे नियम और शर्तें पृष्ठ, हमसे संपर्क करें पृष्ठ, हमारे बारे में पृष्ठ, अस्वीकरण पृष्ठ, आदि। इसके अलावा, कुछ ब्लॉग पोस्ट आपके ब्लॉग या वेबसाइट पर भी प्रकाशित होनी चाहिए।

इतना काम करने के बाद आप अपने ब्लॉग को सर्च कंसोल से जोड़ने के बारे में सोच सकते हैं। यदि आपने ऊपर बताए गए सभी काम कर लिए हैं, तो आपका ब्लॉग Google Search Console से सत्यापित होने के लिए बिल्कुल तैयार है।

#1. गूगल सर्च कंसोल क्या है?

जैसा कि आप जानते हैं, Google Search Console, Google की ही एक निःशुल्क सेवाओं में से एक है। इस टूल को पहले गूगल वेबमास्टर टूल भी कहा जाता था। इस टूल की मदद से आप अपनी वेबसाइट या ब्लॉग को गूगल सर्च इंजन में सबमिट कर सकते हैं ताकि Google आपकी वेबसाइट या ब्लॉग को सही तरीके से क्रॉल कर सके और सर्च रिजल्ट में दिखाता है।

यह एक बेहतरीन टूल है जहां एक प्रकाशक अपनी वेबसाइट या ब्लॉग के Google खोज इंजन में प्रदर्शन के बारे में सभी जानकारी प्राप्त कर सकता है। इस टूल की मदद से आप यह जान सकते हैं कि आपका ब्लॉग या वेबसाइट कितनी बार सर्च रिजल्ट में दिखाया गया है, कितने लोग इसे देख पा रहे हैं, यूजर आपकी वेबसाइट या ब्लॉग को कहां से देख रहे हैं, आपका ब्लॉग किस कीवर्ड पर रैंक हो रही है आदि। इन सभी जानकारियों के आधार पर आप सर्च इंजन में अपने ब्लॉग या वेबसाइट की परफॉर्मेंस को और बेहतर कर सकते हैं।

एक बात जो सबसे ज्यादा जरूरी है वह यह है कि किसी भी ब्लॉग या वेबसाइट को Google SERP पर लाने के लिए सर्च कंसोल में रजिस्टर करना जरूरी है। यदि आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट को सर्च कंसोल में रजिस्टर नहीं करते हैं, तो Google आपके ब्लॉग या वेबसाइट को क्रॉल करेगा, लेकिन इसमें काफी समय लग सकता है।

#2. ब्लॉग्गिंग में Google Search Console का उपयोग क्यों करते है?

जैसा कि आप जानते हैं कि इस समय गूगल दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन है। और हर ब्लॉगर या वेबसाइट के मालिक की इच्छा होती है कि उसका ब्लॉग या वेबसाइट दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजन में रैंक हो। ताकि उसके ब्लॉग या वेबसाइट को गूगल सर्च से ज्यादा से ज्यादा ट्रैफिक मिले और वह उससे काफी अच्छा पैसा कमा सके।

Google Search Console का उपयोग करने के कई कारण हो सकते हैं, लेकिन हमने नीचे कुछ विशेष कारण लिखे हैं जो निम्नलिखित है:

  • अपने ब्लॉग को गूगल सर्च कंसोल में ऐड करने से आपके ब्लॉग पोस्ट गूगल सर्च रिजल्ट्स में दिखने लगते हैं।
  • गूगल सर्च कंसोल की मदद से हम सर्च इंजन में आपके ब्लॉग या वेबसाइट की परफॉर्मेंस का इन्डेप्थ विश्लेषण कर सकते हैं।
  • इस टूल की मदद से आप जान सकते हैं कि आपके कितने पोस्ट Google में इंडेक्स हुए है और जो नहीं हुए है वो किन कारणों से इंडेक्स नहीं हो पा रहे है। ऐसी पोस्टो को अपडेट करके हम उन्हें फिर से Google Search Console में Index कर सकते हैं।
  • आपके ब्लॉग या वेबसाइट पर उपयोगकर्ताओं के व्यवहार को जानने के लिए Google Search Console सबसे अच्छा टूल है। यहां आप जान सकते हैं कि आपकी पोस्ट किस कीवर्ड के लिए सबसे ज्यादा सर्च की जा रही है और यूजर्स इसे किस जगह से और किस डिवाइस से सर्च कर रहे हैं।
  • Google Search Console में किसी भी पोस्ट का विश्लेषण करने के बाद, आप सर्च इंजन में उसकी रैंकिंग में सुधार कर सकते हैं।
  • इस टूल की मदद से आप अपने ब्लॉग के इंटरनल और एक्सटर्नल बैकलिंक्स के बारे में जान सकते हैं।

इसके अलावा आप Google Search Console पर अपने ब्लॉग या वेबसाइट के बारे में बहुत सारी जानकारी पा सकते हैं। आइए अब आपको बताते हैं कि आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट को Google Search Console में कैसे जोड़ सकते हैं।

#3. ब्लॉग को गूगल सर्च कंसोल में कैसे जोड़ें? (Blog Ko Google Search Console Me Kaise Add Kare)

किसी भी ब्लॉग या वेबसाइट को गूगल सर्च में दिखने के लिए सबसे जरूरी है कि आपका ब्लॉग गूगल सर्च कंसोल के जरिए गूगल में इंडेक्स हो।

अब हम आपको स्टेप बाय स्टेप बताएंगे कि कैसे आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट को गूगल सर्च कंसोल में ऐड कर सकते हैं। बहुत से नए ब्लॉगर अपनी वेबसाइट या ब्लॉग को Google Search Console में जोड़ लेते हैं लेकिन सही तरीके से इसको कनेक्ट नहीं कर पाते हैं।

आइए अब आपको बताते हैं कि सर्च कंसोल में ब्लॉग या वेबसाइट जोड़ने का सही तरीका क्या है।

#3.1 गूगल सर्च कंसोल में लॉगइन करे

सबसे पहले गूगल में जाकर गूगल सर्च कंसोल टाइप करें या गूगल सर्च कंसोल वेबसाइट पर जाने के लिए यहां क्लिक करें। इसके बाद लॉगइन बटन पर क्लिक करके लॉगइन करें। क्योंकि गूगल सर्च कंसोल खुद गूगल का ही एक प्रोडक्ट है, इसलिए आप अपनी जीमेल आईडी से लॉग इन कर सकते हैं।

हमारा मानना है कि आपको अपने ब्लॉक के लिए एक अलग जीमेल आईडी बनानी चाहिए और इस ईमेल आईडी का इस्तेमाल अपने ब्लॉक के लिए हर जगह करना चाहिए।

गूगल सर्च कंसोल में लॉग इन करने के बाद आपको इसका डैशबोर्ड दिखाई देगा। जो नीचे दिए गए इमेज की तरह दिखेगा।

गूगल सर्च कंसोल के डैशबोर्ड में आपको दो कॉलम दिखाई देंगे, एक डोमेन वेरिफिकेशन के लिए और दूसरा यूआरएल प्रीफिक्स वेरिफिकेशन के लिए।

हम यहां आपका ध्यान आकर्षित करना चाहते हैं कि आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट को इन दोनों तरीकों से वेरीफाई करवाएं। नए ब्लॉगर यहां गलती करते हैं और अपने ब्लॉग या वेबसाइट को केवल एक ही तरीके से सत्यापित करते हैं, जो कि एक अधूरी सत्यापन प्रक्रिया है।

अब आप सोच रहे होंगे कि इन दोनों सत्यापन विधियों में क्या अंतर है। हम आपको बताएंगे कि आपकी डोमेन प्रॉपर्टी को डोमेन कॉलम में सत्यापित किया जाएगा ताकि उस डोमेन के अंदर के सभी सबडोमेन या यूआरएल को इंडेक्स किया जा सके। इसके अलावा URL Prefix वाले कॉलम में आप उस खास ब्लॉग के URL को वेरिफाइड करवा सकते हैं।

#3.2 डोमेन नाम वेरीफाई करे (Blog Ko Google Search Console Me Kaise Add Kare)

आइए अब हम आपको Google Search Console में Website या Blog Verification करना सिखाते हैं। सबसे पहले हम आपको डोमेन नेम वेरिफाई करना सिखाएंगे जिसके लिए आपको अपने ब्लॉग का डोमेन नेम टाइप करना होगा। आपको डोमेन नेम के अलावा कुछ नहीं करना है। आपको डोमेन नेम के अलावा कुछ नहीं करना है। इसके बाद आपके सामने एक पॉप उप खुलेगा जिसमे एक कोड मिलेगा।

 आपको इस कोड को अपने डोमेन नाम के DNS से सत्यापित करना होगा। इसके लिए आपको इस कोड को कॉपी करके अपने डोमेन नेम प्रोवाइडर के डीएनएस रिकॉर्ड में पेस्ट करना होगा। यहां आपका डोमेन नाम प्रदाता कोई भी GoDaddy, Namecheap या Bluehost आदि हो सकता है।

चूंकि हमारा डोमेन नाम प्रदाता GoDaddy है, तो हम इस कोड को कॉपी करेंगे और इस कोड को अपने डोमेन के DNS रिकॉर्ड में पेस्ट करेंगे। अधिक जानकारी के लिए नीचे दी गयी इमेज को देखे।

#3.3 DNS रिकॉर्ड ऐड करे

अब आप सोच रहे होंगे कि इस HTML कोड को DNS रिकॉर्ड में कैसे जोड़ा जाए। इसके लिए आपको अपने डोमेन होस्ट या डोमेन प्रोवाइडर के अकाउंट में लॉग इन करना होगा। उसके बाद आपको अपने डोमेन के सामने मैनेज सेटिंग्स पर क्लिक करना है। इसके बाद डीएनएस पर क्लिक करें। आपको अपने डोमेन के DNS रिकॉर्ड में कई रिकॉर्ड दिखाई देंगे, आपको TXT रिकॉर्ड में जाना होगा और ADD Record पर क्लिक करना होगा।

यहां आपको TXT रिकॉर्ड जोड़ना होगा। इसके लिए आपको होस्ट रिकॉर्ड ब्लॉक में @ लिखना होगा और TXT वैल्यू HTML कोड पेस्ट करना होगा जिसे आपने सर्च कंसोल से कॉपी किया है। उसके बाद, आपको “Save” बटन पर क्लिक करना होगा।

यह सब करने के बाद आपको वापस सर्च कंसोल डैशबोर्ड पर आना है। और नीचे दिए गए “Verify” बटन पर क्लिक करें। कुछ समय बाद, Google Search Console में आपका Domain Verify हो जाएगा। इस तरह आप अपने डोमेन को Google Search Console में Verify करवा सकते हैं। अब हम आपको बताएंगे कि यूआरएल परफेक्शन मेथड से डोमेन के सभी यूआरएल को वेरिफाई कैसे करें।

#3.4 Search Console में ब्लॉग को URL Prefix ऑप्शन से सत्यापित करें

जब हम Google Search Console के डैशबोर्ड में जाते हैं तो वहां आपको दो तरह के कॉलम दिखाई देते हैं। जिसमें पहला डोमेन वेरिफिकेशन के बारे में है जिसके बारे में हम आपको पहले ही बता चुके हैं और दूसरा है यूआरएल प्रीफिक्स के जरिए अपने ब्लॉग या वेबसाइट को गूगल सर्च कंसोल में वेरिफाई कराना।

अब आपको अपने ब्लॉग या वेबसाइट को URL प्रीफिक्स के जरिए भी वेरिफाई करवाना होगा। ब्लॉगिंग में नए लोग केवल Google खोज कंसोल में अपने ब्लॉग के डोमेन को सत्यापित करते हैं और URL उपसर्ग (URL prefix) विकल्प के साथ सत्यापन को अनदेखा करते हैं।

सबसे पहले आपको अपने ब्लॉग के URL को Verify करना होगा। इसके लिए आपको अपने ब्लॉग के URL को कॉपी करके URL उपसर्ग (URL prefix) में पेस्ट करना होगा। उसके बाद, आपको “Next” के बटन पर क्लिक करना होगा।

ध्यान रहे कि ब्लॉग का URL पेस्ट करते समय आपको किसी भी चीज से छेड़छाड़ नहीं करनी है।

जैसे ही आप “Next” बटन पर क्लिक करेंगे, आपको यूआरएल वेरिफिकेशन के कई विकल्प दिखाई देंगे। इन सभी विकल्पों में से आपको HTML टैग वाले विकल्प को चुनना है।

यहां आपको HTML टैग पर क्लिक करना है और दिए गए कोड को कॉपी करना है।

अब आपको अपने वर्डप्रेस ब्लॉग के डैशबोर्ड में जाना है और लेफ्ट फीड में दिए गए मेन्यू में “Appearance” पर क्लिक करना है और “Theme Editor” विकल्प को चुनना है।

इस कॉपी किए गए कोड को अपने <head> और </head> के बीच में सबसे नीचे पेस्ट करें।

उसके बाद, “Save” के बटन पर क्लिक करें।

इतना करने के बाद वापस Google Search Console पेज पर आएं और Verify बटन पर क्लिक करें।

यह सब करने के बाद आपके ब्लॉग का URL वेरीफाई हो जाएगा।

#4. ब्लॉग का साइटमैप Google Search Console में सबमिट करें

किसी भी ब्लॉग का साइटमैप वह दस्तावेज होता है जिसे पढ़कर सर्च इंजन आपके ब्लॉग के बारे में सब कुछ जान लेते हैं। अपने ब्लॉग के साइटमैप को गूगल सर्च कंसोल में सबमिट करने के लिए सबसे पहले आपको अपने ब्लॉग का एक्सएमएल साइटमैप बनाना होगा। यदि आप Yoast SEO या RankMath जैसे SEO प्लगइन्स का उपयोग करते हैं, तो आप आसानी से अपने ब्लॉग के लिए साइटमैप बना सकते हैं। साइटमैप की मदद से Google आपके ब्लॉग पर मौजूद सभी पोस्ट, इमेज और वीडियो के बारे में जानता है और आपके ब्लॉग पर कौन सी सामग्री प्रकाशित हो रही है।

सामान्य प्रश्न

कैसे पता करें कि ब्लॉग पोस्ट Google में इंडेक्स क्यों नहीं हो रही है?

अगर आपका ब्लॉग पोस्ट गूगल सर्च इंजन में इंडेक्स नहीं हो रहा है तो आप अपने गूगल सर्च कंसोल के यूआरएल इंस्पेक्शन सेक्शन में उस पोस्ट का यूआरएल डालकर चेक करें, वहां आपको पता चल जाएगा कि किस एरर की वजह से यह पोस्ट गूगल में इंडेक्स नहीं हो रही है।

नया ब्लॉग Google सर्च में आने में कितना समय लगता है?

अगर आप अपने ब्लॉग को साइटमैप के साथ गूगल सर्च कंसोल में सबमिट करते हैं तो 1-2 दिनों के अंदर आपका ब्लॉग गूगल सर्च में दिखने लगेगा। लेकिन ब्लॉग को सर्च इंजन में सबमिट करने से पहले आपके लिए अपने ब्लॉग की सही सेटिंग करना बहुत जरूरी है। इस सेटिंग में आपको मेन पेज बनाना और ब्लॉग लोगो वगैरह आदि को अपलोड करना हैं। इसके अलावा आपके लिए अपने ब्लॉग को प्रोफेशनल लुक देना बहुत जरूरी है।

क्या Google खोज कंसोल सभी खोज परिणाम दिखाता है?

हाँ! जिन कीवर्ड से आप Google पर अपने प्रश्न सर्च करते हैं, Google आपको उस प्रश्न का सबसे उपयुक्त उत्तर सबसे ऊपर देखता है और उस खोज से संबंधित सभी उत्तरों को उनके नीचे देखता है।

क्या अलग-अलग ब्लॉग पोस्ट को Google Search Console में जोड़ना पड़ता है?

नहीं, कदापि नहीं! आपकी सभी पोस्ट Google के क्रॉलर द्वारा आपके ब्लॉग साइटमैप के माध्यम से अनुक्रमित की जाती हैं। यदि आप प्रत्येक पोस्ट को व्यक्तिगत रूप से अनुक्रमित करते हैं, तो इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा क्योंकि Google आपके ब्लॉग पोस्ट को खोज इंजन में तभी अनुक्रमित करेगा जब Google क्रॉलर आपके ब्लॉग पोस्ट को क्रॉल करेगा।

#5. निष्कर्ष: ब्लॉग को गूगल सर्च कंसोल में कैसे जोड़ें? (Blog Ko Google Search Console Me Kaise Add Kare)

इस पोस्ट के माध्यम से, हमने आपके कई सवालों के जवाब दिए हैं जैसे कि Google सर्च कंसोल में ब्लॉग कैसे जोड़ें (Blog Ko Google Search Console Me Kaise Add Kare), ब्लॉग को Google से कैसे कनेक्ट करें, ब्लॉग को Google सर्च कंसोल में कैसे सत्यापित करें, आदि।

ऊपर दिए गए तरीके को अपनाकर आप अपने ब्लॉग को Google Search Console के साथ आसानी से जोड़ सकते हैं। अगर आप इन तरीकों को सही तरीके से फॉलो करते हैं तो यकीनन आपका ब्लॉग google में index हो जाएगा और सर्च रिजल्ट में दिखने लगेगा।

लेकिन अपने ब्लॉग को सर्च कंसोल में ऐड करने के बाद ब्लॉग का साइटमैप सबमिट करना न भूलें। क्योंकि गूगल सर्च इंजन ब्लॉग के साइटमैप की मदद से आपके ब्लॉग के बारे में सब कुछ जान पाता है। इस साइटमैप से Google यह पता लगाता है कि रिसेंटली आपके ब्लॉग पर कौन सी जानकारी अपडेट की गई है।

Google के बॉट और स्पाइडर इस साइटमैप को पढ़ते हैं और Google में आपके ब्लॉग की अनुक्रमणिका को अपडेट करते हैं।

आपको यह लेख कैसा लगा हमें कमेंट के माध्यम से जरूर बताएं। अगर इस लेख में निहित जानकारी आपके लिए फायदेमंद साबित हुई है, तो इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ साझा करें।

आपको धन्यवाद

यह भी पढ़ें:

2 thoughts on “ब्लॉग को गूगल सर्च कंसोल में कैसे ऐड करे”

Leave a Comment